CRPC Full Form In Hindi

आइए इस आर्टिकल में हम आपको यह बताएंगे कि CRPC Full Form In Hindi क्या होता है| सीआरपीसी (CRPC) एक कानूनी कार्यवाही होती है जिसके अंतर्गत हमें यह पता चलता है कि कोई व्यक्ति दोषी है या नहीं | सीआरपीसी (CRPC) दंड प्रक्रिया संहिता होती है जो हमें यह समझने में मदद करती है कि कोई व्यक्ति दोषी है | चलिए सीआरपीसी की फुल फॉर्म को और अच्छे से समझते हैं |

CRPC Full Form In Hindi

सी आर पी सी (CRPC) का फुल फॉर्म कोड ऑफ क्रिमिनल प्रोसीजर (Code of Criminal Procedure) होता है | हमें यह पता करने में मदद करता है कि कोई व्यक्ति दोषी है या नहीं | सीआरपीसी (CRPC) को हिंदी में दंड प्रक्रिया संहिता कहते हैं | सीआरपीसी एक ऐसी विधि है जो हमें किसी को दंड देने में मदद करती है | कोई व्यक्ति दोषी है या नहीं यह हमें सीआरपीसी की मदद से पता चलता है |

कोई भी अपराध होने पर पुलिस दो प्रक्रिया शुरू करती है एक प्रक्रिया तो पीड़ित के संबंध में होती है और दूसरी प्रक्रिया आरोपी के संबंध में होती है | इन दोनों प्रक्रियाओं की जांच के बाद ही परिणाम का पता लग पाता है और उसी के बाद आरोपी को दंड दिया जाता है | अपराध सिद्ध होने के बाद आरोपी को दंड दिया जाता है | सीआरपीसी अपराधिक गतिविधि से संबंधित होता है|

सीआरपीसी से समझने के साथ-साथ आपको यह हम भी समझना चाहिए कि अपराध क्या होता है | अपराध वह होता है जब कोई व्यक्ति कानून का उल्लंघन करता है | वह ऐसा काम करता है जो कानून के विपरीत होता है | ऐसा काम जो कानून के अंतर्गत नहीं आता है अपराध कहलाता है | जो व्यक्ति अपराध करता है वह दंड का भागीदार होता है |

सीआरपीसी एक जांच प्रक्रिया है जिसका मकसद जांच करके पता लगाना होता है कि दोषी को दंड मिलना चाहिए या नहीं |

सीआरपीसी के अंतर्गत जांच पड़ताल करना वह दोषी को दंड देना शामिल होता है | सीआरपीसी में बताया गया है कि दंड क्या होता है और किसी दोषी को दंड किस विधि द्वारा दिया जाना चाहिए | किसी व्यक्ति को दंड देने के लिए कौन-कौन सी प्रक्रिया अपनानी पड़ती है यह सीआरपीसी (CRPC) में बताया गया है |

कानून को दो भागों में वर्गीकृत किया गया है | पहला है मौलिक विधि दूसरा है प्रक्रिया विधि | सीआरपीसी (CRPC) में प्रक्रियात्मक विधि का ज्यादा प्रयोग किया जाता है |

सीआरपीसी(CRPC) कब बना था तथा कब लागू हुआ था |

सीआरपीसी की फुल फॉर्म व सीआरपीसी क्या होता है यह हम आपको पहले ही बता चुके हैं | अब हम आपको यह बताएंगे कि (CRPC) कब बना था तथा कब लागू हुआ था | वैसे तो सीआरपीसी (CRPC) के बनने के बाद काफी बदलाव इसमें किए गए हैं |

1973 में राज्यसभा द्वारा सीआरपीसी (CRPC) पारित किया गया था तथा 1 अप्रैल 1974 से लागू हो गया था | सीआरपीसी (CRPC) में अपराध संबंधी जांच पड़ताल पुलिस द्वारा की जाती है |

सीआरपीसी (CRPC) पहले जम्मू-कश्मीर पर लागू नहीं हुआ करता था परंतु अनुच्छेद 370 हटाने के बाद जम्मू कश्मीर, नागालैंड, अन्य जनजातियों पर भी सीआरपीसी की प्रक्रिया लागू हो गई है |

सीआरपीसी(CRPC) की धाराएं |

सीआरपीसी (CRPC) यानी कि कोड आफ क्रिमिनल प्रोसीजर में 484 धाराएं होती है जिनमें 37 चैप्टर होते हैं | सीआरपीसी हमें यह समझने में मदद करती है कि अपराध के बाद क्या प्रक्रिया होगी, जमानत की क्या प्रक्रिया होगी ,गिरफ्तारी की क्या प्रक्रिया होगी तथा वकील के कार्य को समझने में मदद करती है | गिरफ्तारी के बाद दोषी व्यक्ति जेल में कितने दिनों तक रहेगा वह हमें सीआरपीसी (CRPC) में बताया गया है |

सीआरपीसी(CRPC) का उद्देश्य

अपराधिक गतिविधियों में सीआरपीसी (CRPC) काफी मददगार साबित होती है तथा इसके कुछ निम्नलिखित उद्देश्य इस प्रकार है |

  • सीआरपीसी हमें अपराधी को सजा देने में मदद करता है तथा किसी बेगुनाह को दंड देने से बचाता है |
  • सभी व्यक्ति को कानून के आधार पर चलना चाहिए तथा समाज में शांति बनाए रखनी चाहिए |
  • गलत व्यवहार करने वाले अपराधी को दंड देने में सीआरपीसी मदद करता है |
  • सीआरपीसी कानून को मजबूत बनाता है तथा व्यवस्था तंत्र को व्यवस्थित करने में मदद करता है |

सीआरपीसी(CRPC) की आवश्यकता

अभी तक हम सीआरपीसी (CRPC) के बारे में बहुत कुछ जान चुके हैं अब हम इसकी आवश्यकता को समझने की कोशिश करते हैं |

  • सीआरपीसी जांच-पड़ताल के बाद किसी व्यक्ति को दोषी ठहराने में मदद करता है अधूरी जानकारी अधूरी जांच के आधार पर हम किसी व्यक्ति को दोषी नहीं ठहरा सकते हैं |
  • यह एक विधि गत प्रणाली है जो हमें यह समझने में मदद करता है कि किसी अपराधी को किस प्रकार दोषी ठहराना है |
  • अपराधिक गतिविधियां होने पर कानून व्यवस्था को किस प्रकार अपनी जिम्मेदारी निभानी चाहिए यह हमें सीआरपीसी की मदद से पता चलता है |
  • दोषी को किस प्रकार दंडित करना है जो हमें सीआरपीसी बताती है |

मुझे उम्मीद है कि आपको हमारा आर्टिकल पसंद आया होगा और इस आर्टिकल ने आपको सीआरपीसी को समझने में काफी मदद की होगी अगर आपको हमारा यह आर्टिकल अच्छा लगा है तो इसे अपने दोस्तों और फैमिली मेंबर्स के साथ शेयर करिए |

Other Related Articles:

ICDS Full Form In Hindi
SGPT Full Form In Hindi

Leave a Comment